Latest News
      1. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      2. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      3. केलवा में श्री अंबा माताजी का नवरात्रि जागरण सातम 16 अक्टूबर को      4. श्री अंबा माताजी के नवरात्रि जागरण का कार्यक्रम 16 अक्टूबर को-सपरिवार सादर आमंत्रित      5. कुंवारिया मेले में उमड़े मेलार्थी-विशाल भजन संध्या भौंर तक जमे दर्शक      6. अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मेरी उड़ान मेरी पहचान का आयोजन

महागठबंधन बनाने की कवायद को सीपीएम का तगड़ा झटका

Ayush     Category: दिल्ली     09 Oct 2018 (6:27 AM)

नई दिल्ली  नरेंद्र मोदी को मात देने के लिए कांग्रेस विपक्ष के दलों एकजुट कर महागठबंधन बनाने की कवायद को मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम) ने तगड़ा झटका दिया है। सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर महागठबंधन संभव नहीं है बीजेपी को हराना पहली प्राथमिकता है ऐसे में पार्टी इस बारे में उचित समय पर फैसला करेगी


उन्होंने कहा, इसका मतलब उत्तर प्रदेश में सपा (समाजवादी पार्टी) और बसपा (बहुजन समाज पार्टी) और सहयोगियों का गठबंधन हो सकता है। वहीं, बिहार में महागठबंधन का नेतृत्व आरजेडी करेगा. मैं यह कह रहा हूं।

 

सीपीएम के केंद्रीय समिति की बैठक के बाद सीताराम येचुरी ने कहा, हम समय आने पर महागठबंधन में शामिल होने पर फैसला करेंगे। चीजों को साफ होने दें। फिलहाल, हमारी प्राथमिकता बीजेपी को हराने और एक धर्मनिरपेक्ष सरकार गठन को सुनिश्चित करने की है।

 

येचुरी ने कहा कि अगर राज्यों में चुनाव से पहले गठजोड़ करने के प्रयास किए गए तो सीपीएम बीजेपी को हराने के लिए उनका समर्थन करेगी।

 

उन्होंने कहा, अगर सपा और बसपा एक साथ आते हैं, तो हम बीजेपी को हराने के लिए उनके साथ होंगे.बिहार में अगर आरजेडी और अन्य धर्मनिरपेक्ष ताकतें हाथ मिलाती हैं तो हम उनका भी समर्थन करेंगे।

वही येचुरी ने उन जगह पर कॉंग्रेस को समर्थन की बात कही जहाँ उनके उम्मीदवार नही होंगे 

 

उन्होंने कहा कि बीजेपी विरोधी वोटों को एक साथ रखने के लिए चुनावी रणनीति तैयार की जाएगी. येचुरी ने कहा कि यह कार्य भारत को बचाने के लिए बीजेपी को हराने और पश्चिम बंगाल को बचाने के लिए तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को हराने का है।

 

उन्होंने कहा, हम बंगाल में दोनों (बीजेपी और टीएमसी) की हार के लिए काम करेंगे..हम यह सुनिश्चित करेंगे कि ऐसा हो। येचुरी ने कहा कि तेलंगाना में, हमारा उद्देश्य बीजेपी और टीआरएस को हराना। उन्होंने कहा कि भारतीय राजनीति के बारे में अनुमान नहीं लगाया जा सकता. हालात को देखकर फैसले लिए जाते हैं। येचुरी ने कहा कि उनकी पार्टी राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कुछ सीटों पर चुनाव लड़ेगी और बाकी सीटों पर बीजेपी को हराने के लिए अभियान चलाएगी।

Paliwal Menariya Samaj Gaurav