Latest News
      1. महिला की शिकायत पर कार्मिक विभाग सख्त-जांच भेजने के निर्देश से कलेक्टर में मचा हडकंप      2. पालीवाल समाज इंदौर की समाजसेविका श्रीमती विद्या देवी पुरोहित का दुखद निधन-अंतिम यात्रा 4 बजे      3. कैरियर महिला मंडल ने संघर्ष से बनाई नई राह : सांसद दिया कुमारी      4. पालीवाल समाज की भाविका जोशी हुई सम्मानित      5. पालीवाल समाज की प्रतिभाशाली बिटिया गरिमा जोशी को पालीवाल समाज ने किया सम्मानित      6. पालीवाल समाज के श्री भरत बागोरा को सुयश

BJP नेता से गैंगस्टर की कॉन्स्टेबल बीवी का बदला, अब तक तेवतिया के हुए 3 ऑपरेशन, हालत में सुधार

प्रियंका झा      Category: दिल्ली     12 Aug 2016 (2:14 PM)

उत्तर प्रदेश। बीती रात गाजियाबाद इलाके में अज्ञात हमलावरों ने बीजेपी नेता बृजपाल तेवतिया के काफिला पर हमला किया. हमलावर AK-47 राइफल से लैस थे और उन्होंने तेवतिया के काफिले पर अंधाधुंध करीब 50 राउंड फायरिंग की. इस हमले में बीजेपी नेता तेवतिया के साथ करीब 6 उनके रक्षक भी घायल हो गए. अब पुलिस ने इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया है. जिनसे पूछताछ के बाद मामला आपसी रंजिश का लग रहा है.

ADG लॉ एंड ऑर्डर ने बताया कि हमले में शामिल लोगों की पहचान कर ली गई है. इस वारदात के पीछे की मुख्य वजह प्रॉपर्टी और मुखबिरी है.

पति की मौत का बदला लेना चाहती थी सुनीता

हिरासत मे ली गई पुलिस कांस्टेबल सुनीता के मुताबिक उसे पूरी प्लानिंग की जानकारी नहीं थी. लेकिन वो तेवतिया से बदला लेना चाहती थी क्योंकि उसी की वजह से उसके पति राकेश हसनपुरिया की मौत हुई. घटना का कोई सीसीटीवी फुटेज नहीं है क्योंकि इलाका गांव का था. इससे पहले भी तेवतिया पर हमले की प्लानिंग की गई थी लेकिन ऐन मौके पर प्लान बदल गया था. तेवतिया को सामने से मारने के लिए फायरिंग की गई थी. लेकिन शीशे की वजह ये चारों गोलियां तेवतिया के कंधे के पास लगी.

मिल चुकी थी जान से मारने की धमकी

पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस मामले में राजनगर में एक प्लॉट को लेकर रंजिश का मामला सामने आ रहा है. हमले में महरौली निवासी मनोज का नाम सामने आ रहा है. यह बृजपाल के गांव महरौली का ही रहने वाला है. इसमें कुछ और लोगों के नाम भी सामने आए हैं. बीजेपी नेता तेवतिया को पहले जान से मारने की धमकी मिल चुकी है. इसको देखते हुए उन्हें सुरक्षा दी गई थी. हालांकि, कुछ दिन पहले उनसे सुरक्षा वापस ले ली गई थी. इसके बावजूद उनके साथ हमेशा करीब 10 गनर साथ रहते थे. जिस वक्त हमला हुआ बीजेपी नेता किसी तेरहवीं से लौट रहे थे. इस बीच मुरादनगर में उन पर हमलावरों ने अचानक हमला कर दिया. इसमें उनके गनर भी गंभीर रूप से घायल हो गए. ये हमला एसपी राज्यमंत्री आशु मलिक के आवास के पास किया. मंत्री के आवास के पास दो-तीन पीसीआर हमेशा तैनात रहती हैं. इसके अलावा राज्यमंत्री की सुरक्षा के लिए प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड भी तैनात रहते हैं.

तेवतिया को मुखबिरी करना पड़ गया भारी

बागपत में तैनात पुलिस कांस्टेबल सुनीता और दो अन्य लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. सुनीता कुख्यात क्रिमिनल राकेश हसनपुरिया की पत्नी है. बताया जा रहा है कि हसनपुरिया 2003 में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था. उस वक्त कहा जा रहा था कि तेवतिया ने उसकी मुखबिरी की थी. इसके अलावा शेखर चौधरी और मनोज फौजी को भी हिरासत में लिया गया है. शेखर रजापुर और मनोज महरौली का रहने वाला है. पुलिस के मुताबिक रेकी के बाद वारदात को अंजाम दिया गया. तेवतिया महरौली गांव के रहने वाले हैं और उनकी वहां रंजिश चल रही थी. पुलिस के मुताबिक पुरानी रंजिश में हमला किया गया है.

अपराधी की पत्नी है महिला कांस्टेबल

बता दें कि UK 08M66 नम्बर की फॉर्च्यूनर कार बदमाशों की कार कल रात बरामद की गई. बागपत जिले में तैनात एक महिला कांस्टेबल समेत कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. महिला कांस्टेबल कुख्यात राकेश हसनपुरिया की पत्नी है जिसका एनकाउंटर हुआ था.

वीके सिंह, महेश शर्मा, पंकज सिंह देखने पहुंचे

शुक्रवार सुबह जनरल वीके सिंह घायल बृजपाल तेवतिया को देखने फोर्टिस अस्पताल पहुंचे. वीके सिंह ने कहा कि ऑपरेशन के बाद अभी उनकी हालत स्थिर है. साथ ही सिंह ने यूपी में लचर कानून व्यवस्था पर भी सवालिया निशान खड़े किए. इससे पहले कैबिनेट मंत्री महेश शर्मा भी रात 12 बजे तेवतिया को देखने पहुंचे थे. महेश शर्मा ने वारदात में एके-47 राइफल के इस्तेमाल किए जाने पर चिंता जताई. साथ ही शर्मा ने कहा कि यूपी में बदमाशों के मन में सरकार का डर नहीं है. वीके सिंह, महेश शर्मा के अलावा गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह भी तेवतिया को देखने अस्पताल पहुंचे.

तीन घंटे तक चला ऑपरेशन

हमले के बाद तेवतिया को गंभीर हालत में नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया. गोली लगने से शरीर से खून बहुत ज्यादा बहने के चलते डॉक्टर्स ने शरीर में खून चढ़ाया है. खून चढ़ाने के बाद डॉक्टर्स की टीम ने तेवतिया का ऑपरेशन किया जिसमें उनके शरीर से गोलियां निकाली गईं. ये ऑपरेशन करीब 3 घंटे चला. अब तक तेवतिया के तीन ऑपरेशन किए जा चुके हैं. अब उनकी हालत में सुधार हो रहा है.डॉक्टर्स का मानना है कि शरीर में चढ़े खून के चलते बॉडी कैसे रिएक्ट करती है, ये आने वाले 4 से 5 घंटे में साफ होगा. फिलहाल बृजपाल तेवतिया को ऑपरेशन के बाद डॉक्टर्स की ऑब्जरवेशन में रखा गया है.

गुरुवार को हुआ था हमला

यूपी के गाजियाबाद के मुरादनगर में सरेराह बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ब्रजपाल तेवतिया पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी थी. इस घटना में बृजपाल सहित सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे. सभी को फोर्टिस अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. जानकारी के मुताबिक, मुरादनगर में बीच सड़क पर बदमाशों ने बीजेपी नेता ब्रजपाल तेवतिया की गाड़ी पर हमला कर दिया.

मामले की जांच जारी

एडीजी लॉ एंड आर्डर दलजीत सिंह ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि यह वारदात निजी दुश्मनी की वजह से अंजाम दी गई है. पुलिस ने AK-47, 2.9 MM पिस्टल, रायफल सहित कई हथियार बरामद किए हैं. इस मामले की जांच की जा रही है.

प्रियंका झा  की कलम से