Latest News
      1. 2019 में मोदी मैजिक पर लग सकता है ब्रेक... !      2. उर्जित पटेल के पीछे छिपा इस्तीफा का राज      3. राधाकृष्ण सीरियल में गजब के दिख रहे है धनबाद के आलोक शर्मा      4. श्री गुलाबचंद्र व्यास का निधन-अंतिम यात्रा आज      5. इंदौर में भाजपा को हो रहा है नुकसान-सर्वे में कांग्रेस जीत की ओर      6. श्री बबलु बागोरा का दुःखद निधन-अंतिम यात्रा कल

पुलिस फंसाए तो बचने के हैं 4 तरीके -जरूर करें उपयोग

paliwalwani     Category: दिल्ली     27 Jun 2018 (1:28 AM)

कई बार पुलिस झूठा केस बनाकर लोगों को फंसा देती है। ऐसे मामले में घबराने के बजाए आप कानूनी प्रॉसेस को अपना सकते हैं।
झूठे केस में पुलिस ने नाबालिग को फंसाया, पूरा थाना लाइन हाजिर, आपको पुलिस फंसाए तो बचने के हैं 4 तरीके - पटना में एक सब्जी बेचने वाले शख्स को पुलिस द्वारा झूठे केस में फंसाने का मामला सामने आया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, शख्स पुलिस वालों को मुफ्त में सब्जी नहीं देता था, इसलिए पुलिस बाप-बेटे को को घर से उठा ले गई। फिर बाइक लूट के आरोप में बेटे को जेल भेज दिया गया। सीएम नीतीश कुमार ने जांच के बाद 12 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है और अगमकुआं थाने को लाइन हाजिर कर दिया गया है। रिटायर्ड सीएसपी गिरीश सूबेदार और मप्र हाई कोर्ट के एडवोकेट संजय मेहरा बता रहे हैं कि पुलिस आपको जबरन फंसाए तो आप कैसे बच सकते हैं।

बचने का पहला तरीका

यदि आपको लगता है कि थाना लेवल पर यानी सिपाही, एसआई, टीआई जैसे अधिकारी आपको परेशान कर रहे हैं तो आप सबसे पहले सीनियर ऑफिसर तक मामला पहुंचाएं। आप अपने क्षेत्र के सीएसपी, एसपी या डिआईजी को जाकर पूरा मामला बता सकते हैं। जो प्रूफ हैं, उन्हें भी साथ लेकर जाएं।

बचने का दूसरा तरीका

पुलिस हेडक्वार्टर में शिकायत प्रकोष्ठ होता है। आप वहां जाकर इसकी शिकायत कर सकते हैं। जो सबूत हैं, वो दे सकते हैं। इसके अलावा कलेक्टोरेट में जनसुनवाई होती है। वहां भी आप इसकी शिकायत कर सकते हैं।

बचने का तीसरा तरीका

अब हर राज्य में सीएम को ऑनलाइन ही शिकायत की जा सकती है। आप सीएम ऑनलाइन पर जाकर शिकायत करें। इसमें तय समय में एक्शन लेना जरूरी होता है। यदि अधिकारी नहीं सुन रहे तो फिर यह भी बचने का एक तरीका है।

बचने का चौथा तरीका

इन सभी जगह से कुछ नहीं हो रहा तो आप किसी वकील की मदद से हाई कोर्ट में पिटीशन दायर कर सकते हैं। कोर्ट में आपको सबूत और गवाह पेश करने होंगे, जो आपकी बात साबित करें। कोर्ट न सिर्फ पुलिस अधिकारी पर कार्रवाई के आदेश दे सकती है बल्कि आपको जुर्माना देने के ऑर्डर भी दे सकती है।

आपकी बेहतर खबरों के लिए मेल किजिए
*पालीवाल वाणी ब्यूरो-✍️
एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए... 
E-mail.paliwalwani2@gmail.com
09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...

 

Paliwal Menariya Samaj Gaurav