Latest News
      1. श्री पालीवाल ब्राह्मण समाज 24 श्रेणी इंदौर नवरात्री सांस्कृतिक महोत्सव का रंग चढ़ा परवान पर       2. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      3. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      4. केलवा में श्री अंबा माताजी का नवरात्रि जागरण सातम 16 अक्टूबर को      5. श्री अंबा माताजी के नवरात्रि जागरण का कार्यक्रम 16 अक्टूबर को-सपरिवार सादर आमंत्रित      6. कुंवारिया मेले में उमड़े मेलार्थी-विशाल भजन संध्या भौंर तक जमे दर्शक

दैनिक वेतन भोगियो के अच्छे दिन शुरू-समयमान वेतनमान देने का सैद्धांतिक निर्णय

Pulkit Purohit     Category: भोपाल     05 Aug 2016 (10:03 PM)

भोपाल। कर्मचारियों की नाराजगी दूर करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान 15 अगस्त को इनकी लंबित मांगें पूरी कर तोहफा दे सकते हैं। इसके लिए मंत्रालय में रोजाना बैठकें हो रही हैं। बताया जा रहा है कि दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी और कार्यभारित कर्मचारियों की मांगें पूरी हो सकती हैं।

8 अगस्त को वित्त विभाग की मीटिंग

इस पर वित्त विभाग ने भी सहमति दे दी है। वही 8 अगस्त को भी विभागिय मीटिंग होने वाली है, जिस में स्पष्ट हो जाएगा कि दैनिक वेतनभोगियों की पे ग्रेड क्या होगी। वहीं, अध्यापकों की वेतन विसंगति दूर करने को लेकर बैठकों का दौर चल रहा है। इसके अलावा 6 से 18 वर्ष के दिव्यांगों को मिलने वाली पेंशन का नाम दिव्यांग शिक्षा प्रोत्साहनश् योजना करने के साथ सामाजिक सुरक्षा पेंशन की राशि भी दोगुनी की जा सकती है।

न्यूनतम वेतन देने का सैद्धांतिक फैसला

दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी प्रदेश में 58 हजार दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी हैं। इनमें 10 हजार कर्मचारियों को सरकार विभिन्न निर्माण विभागों में नियमित कर चुकी है। बाकी 48 हजार कर्मचारियों को नियमित करने के लिए पद नहीं हैं, इसलिए इन्हें न्यूनतम वेतन देने का सैद्धांतिक फैसला किया गया है।

2 से 3 हजार रुपए महीने का फायदा होगा

इससे कर्मचारियों को 2 से 3 हजार रुपए महीने का फायदा होगा। अभी इन्हें 8 से लेकर 11 हजार रुपए महीना मिलते हैं। वित्त विभाग ने सामान्य प्रशासन विभाग से दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों की कुशल, अर्द्ध कुशल और अकुशल श्रेणी बनाने के लिए कहा है। कार्यभारित कर्मचारी प्रदेश में 40-45 हजार कार्यभारित कर्मचारी हैं। इन्हें सभी सरकारी सुविधाएं मिलती हैं पर पदोन्नति के मौके नहीं हैं।

10 और 20 साल की सेवा पूरी करने पर समयमान वेतनमान मिलेगा

इसके एवज में इन्हें समयमान वेतनमान मिलना चाहिए पर सरकार लंबे समय से इस पर फैसला नहीं नहीं कर पा रही थी। मध्यपद्रेश सरकार ने दैनिक वेतन भोगियों का समयमान वेतनमान देने का सैद्धांतिक निर्णय किया है। इससे दैभो कर्मचारियों को 10 और 20 साल की सेवा पूरी करने पर समयमान वेतनमान मिलेगा।

अर्जित अवकाश की संख्या 20 से बढ़ाकर 30 होगा !

इसके अलावा सरकार इनके अर्जित अवकाश की संख्या 20 से बढ़ाकर 30 करने पर भी विचार कर रही है। नियमित कर्मचारियों को 30 दिन का अर्जित अवकाश मिलता है। दिव्यांग शिक्षा प्रोत्साहन योजना 6 से 18 वर्ष के दिव्यांगों को सरकार सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत 150 रुपए पेंशन देती है। इसका मकसद उन्हें पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित करना है, इसलिए अब तय किया है कि योजना का नाम दिव्यांग शिक्षा प्रोत्साहन होगा। इसकी और अन्य सामाजिक सुरक्षा पेंशन की राशि बढ़ाए दोगुनी करने का प्रस्ताव है, जिस पर वित्त विभाग में विचार चल रहा है। मध्यप्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री ने ने जहां शासकीय कर्मचारियों को तोहफा देने का बड़ा ऐलान 15 अगस्त को करेगी, वहीं दिव्यांगों को सरकार सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना में राशि बढ़ाने का निर्णय लिये जाने से इन लोगों को भी काॅफी राहत मिलेगी। एक प्रकार से मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान ने आगामी चुनाव को लेकर कमर कस ली है वही प्रतिपक्ष अभी -भी गहरी नींद में सोया हुआ है।

 Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Sunil Paliwal-Indore M.P.

Email- paliwalwani2@gmail.com

09977952406-09827052406-

Whatsapp no- 09039752406

पालीवाल वाणी हर कदम... आपके साथ...

Paliwal Menariya Samaj Gaurav