Latest News
      1. आईडाणा की सुमन राव बनीं मिस इंडिया-संजना विज रहीं रनर अप      2. श्री हीरालाल देवपुरा राजकीय महाविद्यालय आमेट में 13 जुलाई को सामान्य ज्ञान परीक्षा      3. सात दिवसीय संगीतमय भागवत कथा बालोदा में प्रारंभ      4. पालीवाल समाज के श्री सेवाराम पालीवाल का निधन-अंतिम यात्रा आज      5. महिला की शिकायत पर कार्मिक विभाग सख्त-जांच भेजने के निर्देश से कलेक्टर में मचा हडकंप      6. पालीवाल समाज इंदौर की समाजसेविका श्रीमती विद्या देवी पुरोहित का दुखद निधन-अंतिम यात्रा 4 बजे

जीवन में सबसे मुश्किल काम बुराई को छोड़ना - श्री राकेश पुरोहित

M. Ajnabee, Kishan Paliwal ... ✍     Category: आमेट     30 May 2019 (7:56 PM)

● गोकथा एवं हरिनाम संकीर्तन-भाग्यशाली व्यक्तियो के घर होते है

आमेट। पुलिस थाने के पास स्थित कंसारा परिवार के घर में गोकथा एवं हरिनाम संकीर्तन का आयोजन हुआ। कथा व्यास श्री राकेश पुरोहित प्रशासनिक संत एवं विकास अधिकारी पंचायत समिति आमेट ने कहा कि मनुष्य धन से सीमित सेवा कर सकता लेकिन भाव से की गई सेवा असीमित होती है। गौ सेवा से बड़ी कोई सेवा नही है।

सभी को अपने पूर्ण सामर्थ्य के अनुसार तन, मन एवं धन से गौ सेवा करनी चाहिए। प्रशासनिक संत ने कहा कि कली काल में नाम संकीर्तन सर्वोत्तम है। घर में नाम संकीर्तन भाग्यशाली व्यक्तियो के होते है। जिसके घर भजन नही होता वो घर, घर नही है। जिस घर में भजन एवं हरिनाम संकीर्तन होते उस घर में संस्कार स्वतः ही आते है। दुनिया में कुछ लोग ऐसे है जिनको कितना भी समझाए लेकिन वो मानने को तैयार ही नही होते। ऐसे लोगो पर अपनी उर्जा व्यर्थ नही करनी चाहिए। जीवन में सबसे मुश्किल काम बुराई को छोड़ना है। बुराई को जानने के बाद उसे त्यागने की भीष्म प्रतिज्ञा लेनी चाहिए। समय, सामर्थ्य, स्वतंत्रता एवं सामग्री सभी व्यक्तियों को ईश्वर ने प्रदत की है। परिस्थितियां प्रतिकूल एवं अनुकूल संसार के व्यवहार को गति दे सकती है।

जीवन में प्रतिकुल परिस्थितियां आती रहती है। ऐसी स्थिति में ही ईश्वर भजन ज्यादा होता है। मानव जीवन का सर्वोच्च फल संतसंग है। ईश्वर जिसकी आवश्यकता है उससे दूर नही रह सकता है। क्योकि वो भक्त वत्सल है। लेकिन अगर ईश्वर दूर है तो ये मनुष्य की कामना है। सुक्ष्म वासना भी आदमी का पतन कर देती है। आध्यात्म तो गुंगे का गुड़ है। जिसके स्वाद को महसुस किया जा सकता है। उसे प्रकट नही किया जा सकता। कथा में कीर्तन श्रीराम जय राम जय जय राम, मंगल भवन अमंगल हारी, राम राम राम राम बोल, कृष्णा कृष्णा कृष्णा कृष्णा बोल, गोविन्द गोविन्द गोपाल, हरे कृष्णा हरे कृष्णा कृष्णा कृष्णा हरे हरे, हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे, जय गोमाता जय गोपाल में श्रोता भाव विभोर हो गए। इस दौरान नारायण लाल कंसारा, धर्मेश छीपा, विनोद कंसारा, रमण कंसारा, मुकेश सिरोया, करण सिंह चौहान, जेठु सिंह राजपुरोहित, सागर मेवाड़ा, राजेन्द्र डांगी, तेजपाल सिंह चुण्ड़ावत सहित बड़ी संख्या में भक्त उपस्थित थे।
● पालीवाल वाणी ब्यूरो- M. Ajnabee-Kishan Paliwal ...✍
🔹 Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news नाम/पता/गांव/मोबाईल नंबर/ लिखकर भेजें...
🔹 Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
www.fb.com/paliwalwani
www.twitter.com/paliwalwani
Sunil Paliwal-Indore M.P.
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-Whatsapp no- 09039752406
▪ एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...
▪ नई सोच... नई शुरूआत... पालीवाल वाणी के साथ...